Best web hosting canadaleadingWeb hosting gatorWeb hosting jobsfromemailrequired
prevnext
Menu

क्या वाइफ के नाम पर प्रॉपर्टी खरीदना है फायदेमंद ?

क्या वाइफ के नाम पर प्रॉपर्टी खरीदना है फायदेमंद ?
यदि आप प्रॉपर्टी खरीदने का प्लान कर रहे हैं या इसे खरीदने जा रहे हैं, तो इसे वाइफ के नाम पर खरीदना है बेहतर विकल्प । वाइफ के नाम पर प्रॉपर्टी खरीदने के हैं कई फायदे –

१. रजिस्ट्री पर विशेष छूट – वाइफ के नाम पर प्रॉपर्टी खरीदने पर स्टाम्प ड्यूटी पर मिलती है विशेष छूट !
स्टाम्प ड्यूटी वास्तव में बायर एवं सेलर के बीच प्रॉपर्टी की तय की गई कीमत या प्रॉपर्टी की मार्केट वैल्यू (दोनों में से जो भी अधिक हो) का एक निश्चित प्रतिशत होता है, जो बायर को प्रॉपर्टी रजिस्ट्रेशन के समय देनी होती है । लीज़ होल्ड से फ्री होल्ड करने पर भी हमें स्टाम्प ड्यूटी देना आवश्यक होता है ।
स्टाम्प ड्यूटी की वैल्यू अलग अलग राज्यों में अलग अलग होती है । पर यदि आप किसी महिला के नाम पर प्रॉपर्टी रजिस्टर कराते हैं तो यह तुलनात्मक रूप से हमेशा कम ही होती है । स्टाम्प ड्यूटी का प्रतिशत कई राज्यों में क्षेत्र के आधार पर भी तय किया जाता है, किन्तु इन राज्यों में भी महिला के नाम पर प्रॉपर्टी खरीदने पर स्टाम्प ड्यूटी पर सरकार द्वारा विशेष छूट दी जाती है ।
उदाहरण-  हरियाणा में पुरुषों को शहरी क्षेत्र में 8% एवं ग्रामीण क्षेत्र में 6% स्टाम्प ड्यूटी देनी पड़ती है, जबकि महिलाओं के नाम पर प्रॉपर्टी खरीदने पर क्रमशः  6% एवं 4% स्टाम्प ड्यूटी देनी पड़ती  है ।

“महिलाओं के लिए स्टाम्प ड्यूटी पर विशेष छूट पर विशेषज्ञ की राय” –

राजीव राज, ‘को – फाउंडर’ एवं डायरेक्टर क्रेडिट विद्या , ने इकनॉमिक टाइम्स ( Economic Times) में दिए एक इंटरव्यू में कहा – “यदि प्रॉपर्टी केवल महिला के नाम पर रजिस्टर कराई जाये तो स्टाम्प ड्यूटी पर 2% की छूट दी जाती है ।” उन्होंने आगे कहा – “यदि प्रॉपर्टी केवल महिला के नाम पर रजिस्टर कराई जाये तो दिल्ली में स्टाम्प ड्यूटी चार्ज केवल 4% एवं जॉइंट रजिस्ट्रेशन पर 5% स्टाम्प ड्यूटी चार्ज लगता है ।”

तो यदि आप अपनी वाइफ के नाम पर प्रॉपर्टी खरीदते हैं तो स्टाम्प ड्यूटी की विशेष छूट आपका अधिकार बन जाता है ।

 २. होम लोन पर छूट – वाइफ के नाम पर होम लोन लेने पर  मिलती है छूट !

यदि आप अपनी वाइफ के नाम पर होम लोन लेते हैं तो आपको इसके कई फायदे हो सकते हैं –
बैंक द्वारा फीमेल होम बायर को आसान होम लोन दिया जाता है । जैसे कि, स्टेट बैंक की “हर घर” योजना के अन्तर्गत 9.5% के रिआयती ब्याज पर होम लोन दिया जाता है । इसके साथ ही  स्टेट बैंक, प्रोसेसिंग फीस पर भी छूट  देती है । स्टेट बैंक द्वारा दी जा रही इस योजना का लाभ उठाने के लिए फीमेल होम बायर को होम लोन का ‘सोल एप्लिकेंट’ या  ‘को – एप्लिकेंट’ में से एक और प्रॉपर्टी का ‘सोल’ या  ‘को – ओनर’ होना आवश्यक है ।

फीमेल होम बायर को बढ़ावा देने के लिए एचडीएफसी ( HDFC) बैंक ने वर्ष 2005 में “वुमन पावर” (महिला शक्ति) नामक योजना आरम्भ की थी । इस योजना के अन्तर्गत महिलाओं को 9.85% की रिआयती ब्याज दर पर होम लोन दिया गया । इस योजना का लाभ जॉइंट एवं सोल ओनर दोनों उठा सकते थे, साथ ही यह होम लोन ऐसी महिलाओं के लिए भी उपलब्ध था जो हाउस वाइफ थी या जिनकी खुद की कोई आय नहीं थी ।

फीमेल होम बायर निम्नांकित बिंदुओं द्वारा भी ब्याज दरों पर कटौती का लाभ प्राप्त कर सकती हैं –
यदि प्रॉपर्टी सेल्फ ऑक्युपाइड अर्थात प्रॉपर्टी पर स्वयं का निवास है, तो प्रति वित्तीय वर्ष में ब्याज दर कटौती की सीमा 1.5 लाख निर्धारित है ।”
 
“यदि प्रॉपर्टी किराये से दी जा चुकी है तो ब्याज पर कटौती किराये की राशि के सापेक्ष क्लेम की जा सकती है ।”
उपर्युक्त जानकारी के अनुसार वाइफ के नाम पर प्रॉपर्टी खरीदना एक  बेहतर विकल्प है । तो यदि आप प्रॉपर्टी खरीदने का मन बना रहे हैं तो इसको अपनी वाइफ के नाम पर खरीदकर पैसे बचाने के साथ – साथ, वाइफ को एक खूबसूरत गिफ्ट दे सकते हैं और अपनी वाइफ का दिल एक बार फिर से जीत सकते हैं ।

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

Error: Cannot reach twitter servers or incorrect username
WordPress Image Lightbox